Wednesday, May 22, 2024
More
    Homeताजा खबरराजधानी में भारी बारिश से हाल-बेहाल, आम जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त

    राजधानी में भारी बारिश से हाल-बेहाल, आम जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त

    जयपुर। सावन के मौसम में शनिवार की अलसुबह गोविंद भक्तों के साथ आमजन के लिए यादगार बन गई। सुबह 3.30 बजे से शुरू हुई मूसलाधार बारिश ने एक घण्टे के भीतर ही तपिश को हटा दिया। एक ही वेग से बरसी काली घटाओं ने जयपुर को टापू बना दिया। जिधर देखो सड़कों पर पानी ही पानी…इस दौरान शहर के ऊंचे इलाकों में जहां आधा फ़ीट तक पानी सड़कों पर आ गया। वही, दूसरी ओर निचले इलाकों ओर सड़कों पर तीन फीट तक पानी हिलोरे ले रहा था। जिससे आम जनजीवन ठहर सा गया।

    पुरुषोत्तम एकादशी पर शहर के आराध्य गोविन्ददेव जी के भक्तों में अटूट आस्था के तहत मन्दिर में मंगला झांकी के दौरान तेज बारिश में भी लगभग 5 हजार दर्शनार्थियों ने दर्शन कर लाभ उठाया। दूरदराज के भक्तों सहित शहर के नियमित आने वाले भक्तोँ ने दर्शन के साथ हो रहे कीर्तन का आनन्द लिया। वही, ब्रह्मपुरी,सुभाष चौक,रामगंज बाजार,जलमहल, आमेर रोड सहित अनेक इलाके जलमग्न हो गए।

    राजधानी जयपुर सहित पूरे प्रदेश में लगातार हो रही बारिश ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है. हाल में प्रदेश में मानसून एक्टिव हुआ है जिसका असर आज सुबह एकादशी के मौके पर देखने को मिला. मौसम विभाग की और से बारिश को लेकर चेतावनी  जारी की गई. इस चेतावनी के बाद प्रदेशवासियों की चिंता बढ़ गई है. मौसम विभाग द्वारा जारी चेतावनी में आगामी दिनों में जयपुर-भरतपुर संभाग सहित प्रदेश के कई जिलों में भारी से अतिभारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मानसून में होने वाली बारिश का सबसे अधिक कहर  अगस्त के शुरुआती हफ्ते में देखने को मिलेगा.


    राजधानी जयपुर में आज सुबह करीब चार बजे से हो रही जोरदार बारिश से कई क्षेत्रों में एक-एक फीट तक पानी भर गया है. गुलाबी शहर जयपुर में आज सुबह 4 बजे जारी बारिश से शहर के चारदीवारी, सीकर रोड, कलेक्ट्रेट समेत पूरे शहर में सड़कों पर पानी भर गया. सीकर रोड स्थित ढेहर के बालाजी पर एक से डेढ़ फीट तक सड़क पर पानी भरने से यहां से गाड़ियों की आवाजाही रुक गई. भारी बारिश से राजधानी वासियों का आम जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया. टोंक रोड, एमआई रोड, परकोटा एरिया में भी सड़कों पर आधा फीट तक पानी भरा दिखाई दिया. कल देर शाम को भी जयपुर के ग्रामीण इलाके बस्सी, दूदू, विराटनगर, मौजमाबाद समेत कई जगह 2 इंच तक बरसात हुई। इधर लगातार बारिश से शहर के नजदीक स्थित कानोता बांध भी छलक गया है. भारी बारिश के कई जगह हादसे भी हुए. मानसून में हुई झमाझम बारिश से जल महल लबालब हो गया, जलमहल की दीवार टूटने के कारण बारिश का पानी सड़को तक आ गया. मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा से मिली जानकारी के अनुसार कि जयपुर, भरतपुर संभाग के जिलों में आज भी मानसून सक्रिय रहेगा और कई जगह भारी बारिश होने की संभावना है.

    राजधानी मे बारिश का कहर जारी है तड़के हुए तेज बारिश से गोविन्द देव जी मंदिर के पीछे कंवर नगर के पास नवीन खेल परिसर की सम्पूर्ण दीवार गिर गयी. ये वही खेल परिसर है जो की स्मार्ट सिटी व निगम के द्वारा बनाया गया था स्वयं कैबिनेट मंत्री महेश जोशी भी इसी क्षेत्र से है स्मार्ट सिटी के सीईओ एवं आयुक्त नगर निगम हैरिटेज से है.

    भारी बारिश के बीच जयपुर हैरिटेज नगर निगम की महापौर मुनैश गुर्जर शहर में उपजे हालात का दौरा कर जायजा लिया. मुनैश गुर्जर बनीपार्क फायर स्टेशन के पास बने बाढ़ नियंत्रण कक्ष पहुंची, जहां अव्यवस्था को देख कर फायर उपायुक्त को नोटिस दिया. महापौर ने बाढ़ नियंत्रण कक्ष में व्यवस्थाओं मे खामियों को लेकर उपायुक्त फायर छगन यादव,  मुख्य अग्नि शमन अधिकारी देवेंद्र मीणा, सहायक अग्निशमन अधिकारी, फायरमैन को नोटिस के निर्देश दिए है.

    मौसम विभाग ने बताया कि पिछले 24 घंटों में जयपुर व दौसा जिलों में कहीं-कहीं अति भारी बारिश दर्ज की गई जबकि राजसमंद, बारां, सीकर, अजमेर सवाई माधोपुर, भरतपुर व बीकानेर जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश दर्ज की गई है. पूर्वी राजस्थान में सर्वाधिक बारिश जयपुर कलेक्ट्रेट में 158mm, जबकि पश्चिमी राजस्थान के नोखा, बीकानेर में 84 mm बारिश दर्ज की गई है.

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -
    Google search engine

    Most Popular

    Recent Comments