Monday, May 27, 2024
More
    Homeताजा खबरभक्तों को रोका मां वैष्णो देवी के दर्शन करने से

    भक्तों को रोका मां वैष्णो देवी के दर्शन करने से

    हेलिकॉप्टर और बैटरी कार सेवा रोकी
    जम्मू में भारी बारिश,राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात ठप
    कटरा में 315.4 मिलीमीटर तक रिकॉर्ड तोड़ बारिश

    जम्मू। जम्मू क्षेत्र के कई हिस्सों में रात भर भारी बारिश होने के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात निलंबित कर दिया गया है। अधिकारियों ने डोडा और किश्तवाड़ जिले में स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर के लिए हेलिकॉप्टर और बैटरी कार सेवा भी खराब मौसम के कारण रोक दी गई है। बारिश के कारण राजमार्ग पर कई जगहों पर भूस्खलन हुआ। पहाड़ों से मिट्टी खिसकने और भूस्खलन के कारण यातायात को रोकना पड़ा। यातायात विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘राजमार्ग अब भी बंद है और जब तक मार्ग से भूस्खलन का मलबा हटा नहीं दिया जाता तब तक लोगों को यात्रा नहीं करने की हिदायत दी गई है।’’ अधिकारियों ने बताया कि कठुआ जिले में जम्मू-पठानकोट राजमार्ग पर भी यातायात परिवर्तित किया गया है, जहां तरनाह नाला में अचानक आई बाढ़ की वजह से एक पुल के दो खंभे क्षतिग्रस्त हो गए।

    सरकारी व निजी स्कूल बंद
    एहतियात के तौर पर डोडा और किश्तवाड़ जिले के सभी सरकारी और निजी स्कूलों को दिन भर के लिए बंद कर दिया गया। उन्होंने बताया कि लगातार बारिश के कारण चिनाब और उसकी सहायक नदियों का जल स्तर भी बढ़ रहा है और छात्रों की सुरक्षा के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है।

    1980 में हुई थी ऐसी बारिश
    मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि वैष्णो देवी मंदिर जाने वाले तीर्थ यात्रियों के आधार शिविर कटरा में 315.4 मिलीमीटर बारिश हुई, जो अब तक की सबसे ज्यादा बारिश है। इससे पहले 1980 में ऐसी बारिश हुई थी।
    कई जगहों पर, विशेषरूप से कठुआ और सांबा जिले में नदी और नाले भर चुके हैं या फिर जलस्तर खतरे के निशान को पार कर चुका है। वहीं, मौसम विभाग ने दोपहर तक और बारिश की आशंका जताई है।

    कठुआ और सांबा में बाढ़ जैसे हालात
    ‘‘कठुआ और सांबा में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। कठुआ में उझ और बसंतर नदी खतरे के निशान को पार कर गई है जबकि जम्मू में तावी, चिनाब और उसकी सहायक नदियों का जलस्तर खतरे के निशान के पास पहुंच चुका है।’’

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -
    Google search engine

    Most Popular

    Recent Comments