Friday, May 24, 2024
More
    Homeमनोरंजनकरण जौहर के लिए विशेष आयोजन करेगा आईएफएफएम

    करण जौहर के लिए विशेष आयोजन करेगा आईएफएफएम

    मुंबई। ‘इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न’ (आईएफएफएम) ने फिल्म निर्माता के तौर पर करण जौहर के इस साल 25 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में विशेष आयोजन करने का बुधवार को ऐलान किया। आयोजकों ने बताया कि 11 – 20 अगस्त तक आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में करण जौहर की फिल्में दिखाई जाएंगी।

    करण ने फिल्म ‘कुछ कुछ होता है’ के साथ 1998 में निर्देशन की शुरुआत की थी और भारतीय फिल्म उद्योग में सबसे प्रभावशाली शख्सियतों में से एक बन गए। फिल्म निर्माता करण ने कहा आईएफएफएम के 14वें संस्करण का हिस्सा बनकर खुद को ‘बेहद सम्मानित’ महसूस कर रहा हूं। यह साल मेरे लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि मैं एक फिल्म निर्माता के तौर पर 25 साल पूरे कर रहा हूं और मुझे नहीं लगता कि इसके लिए आईएफएफएम से बेहतर कोई और मंच हो सकता है।

    उन्होंने एक बयान में कहा मैं तीसरी बार इस समारोह में शामिल हो रहा हूं और ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों से मिले प्यार और समर्थन से काफी उत्साहित हूं। मैं समारोह के दौरान एक विशेष संवाद में शामिल होने के लिए काफी उत्सुक हूं। यहां मैं फिल्म निर्माता के तौर पर अपनी यात्रा से जुड़ी बातें भी साझा करूंगा।

    आईएफएफएम के निदेशक मितु भौमिक लांगे ने कहा कि करण जौहर ‘भारतीय सिनेमा के एक आइकन’ हैं और फिल्म उद्योग पर उनके प्रभाव को कम नहीं आंका जा सकता। भौमिक ने कहा इस साल आईएफएफएम में हमें करन जौहर के असाधारण करियर और भारतीय फिल्म जगत में उनके योगदान का सम्मान करने का सौभाग्य मिला है।

    एक निर्देशक के रूप में जौहर के खाते में ‘कभी खुशी कभी गम’, ‘कभी अलविदा ना कहना’ और ‘माई नेम इज खान’ शामिल हैं, जबकि एक निर्माता के रूप में उनके नाम ‘कल हो ना हो’, ‘ये जवानी है दीवानी’, ‘कपूर एंड संस’ और ‘राजी’ जैसी फिल्में हैं। वह सेलिब्रिटी चैट शो ‘कॉफी विद करण’ की मेजबानी भी करते हैं।

    Mamta Berwa
    Mamta Berwa
    JOURNALIST
    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -
    Google search engine

    Most Popular

    Recent Comments