Wednesday, July 24, 2024
Homeताजा खबरअंजू 20 अगस्त को भारत लौटेगी, उससे शादी की कोई योजना नहीं...

अंजू 20 अगस्त को भारत लौटेगी, उससे शादी की कोई योजना नहीं : पाकिस्तानी पुरुष मित्र

पेशावर। पाकिस्तान के दूर दराज के गांव में फेसबुक के जरिये बने अपने पुरुष मित्र से मिलने आई भारतीय विवाहिता महिला अंजू वीजा की अवधि पूरी होने पर 20 अगस्त को स्वदेश लौट जाएगी। यह जानकारी अंजू के पाकिस्तानी मित्र नसरुल्ला ने सोमवार को दी जिससे मिलने वह यहां आई हुई है। नसरुल्ला ने इसके साथ ही अंजू से प्रेम संबंध होने की दावों को भी खारिज कर दिया। नसरुल्ला (29) ने कहा कि उसकी 34 वर्षीय अंजू से विवाह करने की कोई योजना नहीं है। अंजू का जन्म उत्तर प्रदेश के कैलोर गांव में हुआ था और वह राजस्थान के अलवर में रहती थी। नसरुल्ला और अंजू की दोस्ती 2019 में फेसबुक के माध्यम से हुई थी।

अंजू वैध वीजा पर पाकिस्तान गई

पेशावर से करीब 300 किलोमीटर दूर कुल्शो गांव से रहने वाले नसरुल्ला ने कहा, अंजू पाकिस्तान आयी हुई है और हमारी शादी करने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा, वह 20 अगस्त को वीजा अवधि समाप्त होने पर अपने देश लौट जाएगी। अंजू मेरे घर में परिवार की अन्य महिलाओं के साथ दूसरे कमरे में रहती है। अंजू वैध वीजा पर पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा सूबे के कबायली जिले ऊपरी दीर में नसरुल्ला से मिलने आई है।

ऊपरी दीर जिले से भी बाहर नहीं जाएगी

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्रालय द्वारा नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग को भेजे गए आधिकारिक दस्तावेज के मुताबिक कार्यालय सूचित करता है कि उसने अंजू को केवल ऊपरी दीर जिले के लिए 30 दिनों का वीजा मंजूर करने का फैसला किया है। नसरुल्ला शेरिंगल स्थित विश्वविद्यालय से विज्ञान में स्नातक है और पांच भाइयों में सबसे छोटा है। उसने स्थानीय अधिकारियों को दिए हलफनामे में कहा कि उनकी दोस्ती में प्रेम का कोई कोण नहीं है और अंजू 20 अगस्त को भारत लौट जाएगी। हलफनामे के मुताबिक वह ऊपरी दीर जिले से भी बाहर नहीं जाएगी।

नहीं चाहते समुदाय की बदनामी

जिला पुलिस अधिकारी मुश्ताक ने कहा, वीजा दस्तावेजों के मुताबिक वह 20 अगस्त को वापस लौट जाएगी। मुश्ताक ने रविवार को अंजू से अपने कार्यालय में पूछताछ की और उसके दस्तावेजों की जांच के आधार पर अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी किया गया। नसरुल्ला ने कहा कि जिला प्रशासन ने उन्हें पर्याप्त सुरक्षा प्रदान की है और अंजू उसके परिवार के साथ सुरक्षित है। पश्तून बहुल गांव के लोग चाहते हैं कि अंजू सुरक्षित भारत लौट जाए क्योंकि वे नहीं चाहते कि इस घटना से उनके समुदाय की बदनामी हो। अंजू के पति व राजस्थान निवासी अरविंद ने उम्मीद जताई है कि जल्द उसकी पत्नी वापस आ जाएगी। अंजू की 15 साल की बेटी और छह साल का बेटा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments