Wednesday, May 22, 2024
More
    Homeताजा खबरसावन के महीने में ‘हलाला सर्टिफाइड’ चाय, जानिए चाय शाकाहारी या मासाहारी.

    सावन के महीने में ‘हलाला सर्टिफाइड’ चाय, जानिए चाय शाकाहारी या मासाहारी.

    नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर इन दिनों ट्रेन के अंदर यात्रियों के हंगामे का वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में ट्रेन में सफर करते यात्री चाय को लेकर हंगामा करते हुए दिखाई दे रहे है. जानकारी के अनुसार एक शख्स चाय प्रीमिक्स को लेकर हंगामा कर रहा था दरअसल चाय पर ‘हलाल सर्टिफाइड’ लिखा था, तो यात्री को लगा कि यह चाय मासाहारील है और सावन की महीने इसे परोसा जा रहा है. ट्रेन का स्टाफ यात्री को यह समझाने की कोशिश कर रहा है कि चाय शाकाहारी है. लेकिन यात्री उससे बहस और गुस्सा करता दिख रहा है. वीडियो में यात्री रेलवे कर्मचारियों से सवाल कर रहा है कि हलाल सर्टिफाइड चाय का क्या मतलब है और इसे सावन महीने में क्यों परोसा जा रहा है.

    हलाला शब्द का क्या मतलब

    आपको बता दें कि हलाल एक अरबी शब्द है. हलाला शब्द का मतलब ‘permissible’ यानी ‘जायज’ होता है. रेख्ता डिक्शनरी का अनुसार ‘जो इस्लामी धर्म-शास्त्र के अनुसार उचित हो अथवा उसके द्वारा अनुमोदित हो, जो हराम न हो, जिस पर प्रतिबंध न हो यानी जाएज़ हो उसे हलाल कहा जाता है. हलाल शब्द ‘हराम’ शब्द का विलोम है, जिसका अर्थ होता है अवैध. हलाल न केवल खाने के लिए जानवरों के वध पर लागू होता है बल्कि इस्लामी मान्यताओं के अनुसार निर्माण की प्रक्रिया पर भी लागू होता है.

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -
    Google search engine

    Most Popular

    Recent Comments