Friday, May 24, 2024
More
    Homeताजा खबरAshok Gehlot On Lokesh Sharma: लोकेश शर्मा के आरोपों पर पूर्व सीएम...

    Ashok Gehlot On Lokesh Sharma: लोकेश शर्मा के आरोपों पर पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने दी प्रतिक्रिया,कहा-”मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्या खुलासे किए हैं”,पढ़ें और क्या कहा ?

    अपने OSD रहे लोकेश शर्मा के दावों पर पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने दी प्रतिक्रिया, कहा” मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्या खुलासे किए हैं.मैं ऐसी बातों में नहीं पड़ता,देश में जो माहौल है ऐसा है कि कौन कब पार्टी छोड़ेगा और बीजेपी में शामिल हो जाएगा.इसीलिए इस बात की चिंता नहीं करनी चाहिए की कौन क्या कहता है.बल्कि यह देखें की सच्चाई क्या है”

    बता दें कि पूर्व सीएम अशोक गहलोत के OSD रहे लोकेश शर्मा ने दावा किया था कि सचिन पायलट की सरकार गिराने की साजिश में कोई भूमिका नहीं थी.सीएम गहलोत ने ऑडियो क्लिप मुझे पेन ड्राइव में लाकर दी थी और उनके कहने पर ही मैंने पेन ड्राइव मीडिया तक पहुंचाई

    गहलोत ने अपनी कुर्सी बचाने के लिए मुझे फंसाया था :लोकेश शर्मा

    जिसमें सीधे तौर पर केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को शामिल किया गया.सरकार गिराने की साजिश में बीजेपी के भी शामिल होने से इनकार किया है.उन्होंने कहा-पूर्व डिप्टी सीएम ने तो ये कहा था कि सरकार में हमारी सुनवाई नहीं हो रही है.इसके बाद सचिन पायलट समेत नेताओं के फोन को सर्विलांस पर डाले गए.लोकेश शर्मा ने आगे कहा कि गहलोत ने अपनी कुर्सी बचाने के लिए मुझे फंसाया था.पिछली सरकार में सचिन पायलट और गजेंद्र शेखावत को कमजोर करने की साजिशें होती रहती थी.

    उल्लेखनीय है कि मानेसर कांड के दौरान लोकेश शर्मा ने मीडिया को एक ऑडियो क्लिप जारी की थी.और दावा किया गया था कि सरकार गिराने के लिए गजेंद्र शेखावत नामक व्यक्ति,एक विधायक और दलाल की बातचीत इस ऑडियो क्लिप मे है.राजस्थान में साल 2020 में सियासी संकट के समय गहलोत सरकार पर फोन टैप करने के आरोप लगे थे. उस समय कुछ ऑडियो भी सामने आए थे.

    पूर्व सीएम गहलोत ने मुझे दी थी पेन ड्राइव :लोकेश शर्मा

    लोकेश शर्मा ने आगे कहा कि आज भारी मन से मजबूर होकर बोल रहा हूं. 3 साल से फोन टैपिंग प्रकरण में कड़ी पूछताछ हुई.कई घंटों जवाब देता हूं.जबकि ये सब मैंने किया ही नहीं था.जिनके लिए किया आज वो किनारा कर रहे हैं.आज तक मैं कहता रहा जो भी ऑडियो क्लिप मिली वो सोशल मीडिया के माध्यम से मिली जबकि ये सच नहीं था.16 जुलाई 2020 को सीएम गहलोत होटल फेयरमाउंट आए.तभी सीएम के PSO रामनिवास का मेरे पास कॉल आया,तब मैं पूर्व सीएम गहलोत के पास गया.जैसे ही मैं वहां पहुंचा तो पूर्व सीएम गहलोत ने एक पेन ड्राइव दिया जिसमें वो ऑडियो क्लिप हैं. पेन ड्राइव से ही मैंने मीडिया और सोशल मिडिया में क्लिप पहुंचाई.

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -
    Google search engine

    Most Popular

    Recent Comments